600 सिबिल स्कोर के लिए पर्सनल लोन | Personal Loan For 600 CIBIL Score In Hindi

Personal Loan For 600 Cibil Score In Hindi

600 के सिबिल स्कोर पर पर्सनल लोन कैसे लें ?

क्या सिबिल स्कोर बहुत कम होने के कारण आपका हाल ही में लोन एप्लीकेशन को खारिज कर दिया है ? अभी तक आपको यह भी नहीं पता कि ये सिबिल स्कोर होता क्या है, तो आपको ज्यादा परेशान होने की जरुरत नहीं है क्यूंकि यहाँ बहुत सारे लोग हैं जिन्हे सिबिल स्कोर के बारे में पता नहीं होता। इसे जानने की आवश्यकता है क्यों कि सभी बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्तीय सेवा कंपनियां सिबिल स्कोर के आधार पर पर्सनल लोन दिया करते हैं।

सिबिल स्कोर की अवधारणा को समझ लेते हैं:-

CIBIL स्कोर आपकी साख का स्कोर है जो क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा बनाए रखा जाता है। आपके द्वारा लिए गए प्रत्येक लोन या क्रेडिट कार्ड की सूचना सिबिल को दी जाती है, और इस आधार पर कि आप अपनी ईएमआई के साथ कितने तत्पर और नियमित हैं, आपका स्कोर या तो बढ़ता या घटता है। ऐसे कई कारक हैं जिनके आधार पर आपका क्रेडिट स्कोर तय किया जाता है और प्रभावित होता है, लेकिन प्राथमिक मानदंड यह है कि आप अपने लोन या क्रेडिट कार्ड को चुकाने की कितनी संभावना रखते हैं। उदाहरण के लिए, जब भी आप एसबीआई पर्सनल लोन या होम लोन या क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते हैं, तो बैंक आपके अनुरोध को संसाधित करने से पहले आपके क्रेडिट स्कोर की जांच करेगा। यह सुनिश्चित करेगा की आपकी साख कितनी मजबूत है ताकि लोन की क़िस्त उन्हें समय पर मिल सके।

पर्सनल लोन अप्रूवल करवाने से पहले अपना सिबिल स्कोर अवश्य जांच लें

CIBIL आपकी क्रेडिट योग्यता को 300 से 900 की सीमा में अंक देता है। 800 या उससे अधिक का क्रेडिट स्कोर सर्वोत्तम अंक माना जाता है। अगर आपका रेटिंग हाई है आपको लोन देने के लिए बैंक आपके पीछे दौड़ेंगे। 699 से 799 के बीच के स्कोर को लोन के लिए स्वीकार्य माना जाता है, 600 से ऊपर के स्कोर को ठीक-ठाक माना जाता है, और 550 से नीचे के किसी भी स्कोर को खराब माना जाता है, और आपको पर्सनल लोन के लिए खारिज कर दिया जाएगा।

आपके लोन का नियमित पुनर्भुगतान और पुराने लोन का शीघ्र भुगतान करने से CIBIL स्कोर बढ़ जाता है। CIBIL Score कई कारणों से नीचे जा सकता है:

  • यदि आप अपने किसी लोन का भुगतान लंबे समय तक या नियमित रूप से करने से चूक जाते हैं।
  • अगर आपने कई जगह से पर्सनल लोन लिया होता है।
  • यदि आपके पास बहुत अधिक क्रेडिट उपयोग है यानी, आपने अपने कुल उपलब्ध क्रेडिट की तुलना में बहुत अधिक लोन या क्रेडिट कार्ड लिए हैं।
  • यदि बैंक द्वारा आपके सिबिल स्कोर के बारे में बहुत अधिक पूछताछ की जाती है तो यह आभास होता है कि आप लोन के भूखे हैं।
  • यदि आपके पास वास्तव में एक ही समय में बहुत अधिक लोन चल रहे हैं, जिसमें बहुत अधिक असुरक्षित लोन भी शामिल हैं, तो आपका क्रेडिट स्कोर प्रभावित हो सकता है।
  • बहुत से अस्वीकृत लोन आवेदन भी आपके क्रेडिट स्कोर को खराब करते हैं।

Personal Finance Mobile 5

600 सिबिल स्कोर वाले पर्सनल लोन के लिए कैसे अप्लाई करें?

पर्सनल लोन के लिए आपको सबसे पहले अपना सिबिल स्कोर जांचना चाहिए और यदि सिबिल स्कोर जांचने के बाद वह 600 क्रेडिट रेंज में है तो आपको एक झटका लग सकता है परन्तु इसका उपाय अभी भी उपलब्ध है। कुछ बुनियादी चीजों का पालन करके, आप पर्सनल लोन प्राप्त कर सकते हैं और अपना क्रेडिट स्कोर फिर से बढ़ा सकते हैं।

सबसे पहले अपने सिबिल स्कोर में किसी भी तरह की गड़बड़ी की जांच करें और उन्हें ठीक करें। सिबिल का स्कोर ट्रैकिंग सिस्टम बहुत आसान है। ऐसे कई मामले सामने आए हैं जहां लोगों को किसी और के कर्ज और चूक से उनके क्रेडिट स्कोर टैंक में उनकी कोई गलती न होने के बावजूद टैग किया जाता है। अपनी विस्तृत क्रेडिट रिपोर्ट देखें और यह देखें कि इसमें केवल आपका लोन होना चाहिए। यदि आप अपनी क्रेडिट रिपोर्ट में कोई गड़बड़ी पाते हैं, तो स्कोर को ठीक करने के लिए ईमेल या फोन के माध्यम से ऑनलाइन सिबिल से संपर्क कर सकते हैं। इस प्रक्रिया में कुछ समय लग सकता है, आमतौर पर एक महीना लेकिन यह ज्यादातर लोगों के क्रेडिट स्कोर के लिए अच्छा काम करता है जो किसी और की गलती के कारण प्रभावित हुए हैं।

बैंक को दिखाएं कि आपके पास लोन चुकाने के लिए पर्याप्त आय है। पिछले 12 महीने की अपनी वेतन पर्ची या आय विवरण इकट्ठा करें। यहां उद्देश्य सिर्फ बैंक को आश्वस्त करना है कि आपके पास इतना आय है जिससे आप अपनी ईएमआई का भुगतान कर सकते हैं। यदि आपके हाल ही में वेतन की वृद्धि हुई है, तो आपका नया वेतन बैंक को दिखाएं। जब बैंक देखते हैं कि आपकी स्थिर आय है, तो आपके लोन लेने की संभावना बढ़ जाती है।

अब चुकी आपकी सिबिल स्कोर 600 तक है तो आपको उच्च ब्याज दर पर पर्सनल लोन मिल सकता है। अच्छे क्रेडिट स्कोर वाले लोगों को सर्वोत्तम ब्याज दरें मिलती है। फिर अच्छे श्रेणी के लोग हैं जिन्हें प्रसंस्करण शुल्क और मध्यम ब्याज दरों के मामले में औसत सौदे मिलेंगे। जो लोग 600 क्रेडिट स्कोर रेंज में हैं, वे उच्च ब्याज दर प्राप्त करते हैं और उनकी प्रोसेसिंग फीस भी अन्य श्रेणियों की तुलना में अधिक होती है। आप कुछ छूट प्राप्त करने के लिए लोन एजेंट के साथ बातचीत कर सकते हैं।

सह-उधारकर्ता या गारंटर से लोन मांगें। यदि आप किसी को अपने साथ लोन के लिए साइन अप करवा सकते हैं, तो आपके द्वारा की जाने वाली आय को उस व्यक्ति की आय के साथ जोड़ दिया जाएगा। यह बैंक के लिए एक आश्वासन के रूप में कार्य करेगा कि इस प्रक्रिया में कोई जिम्मेदार है जो मूल उधारकर्ता के चूक होने की स्थिति में जोखिम उठाएगा। सह-उधारकर्ता या लोन गारंटर के पास स्वयं एक अच्छा क्रेडिट स्कोर और स्थिर आय होनी चाहिए। यदि दूसरे व्यक्ति का भी क्रेडिट स्कोर कम है, तो स्थिति खराब हो सकती है, इसलिए पहले से ही दूसरे व्यक्ति की अच्छे क्रेडिट कार्ड को सुनिश्चित कर लें।

कम अमाउंट के लोन मांगने का प्रयास करें। अधिक अमाउंट को अस्वीकार कर दिया जायेगा क्यूंकि आपका क्रेडिट स्कोर कम है, तो इस बात की संभावना है कि कम लोन राशि के लिए बैंक के पास कम क्रेडिट स्कोर मानदंड हो सकते हैं। लोन एजेंट से बात करें कि क्या आपको कम लोन राशि दी जाएगी। ज्यादातर मामलों में, यह उन लोगों के लिए संभव हो सकता है जो अपने लोन की मांग की गई राशि को कम कर सकते हैं।

Personal Finance Mobile 4

600 सिबिल स्कोर तक के लोग कुछ एनबीएफसी कम्पनी से लोन प्राप्त कर सकते हैं, जो कम सिबिल स्कोर पर भी लोन मुहैया करवाते हैं। जैसे कि – टाटा कैपिटल, बजाज फिनसर्व, आदित्य बिड़ला कैपिटल, आईआईएफएल फाइनेंस, HDB फाइनेंशियल सर्विसेज। आप इन एनबीएफसी कम्पनी में बार अप्लाई अवश्य करें।

इस लेख में हमने 600 सिबिल स्कोर वाले लोगों को पर्सनल लोन प्राप्त करने की सारी संभावना को बताया है।

nv-author-image

Neetin Shekhar

The main purpose of our Bankloanmarket blog is to make information related to loan, finance, credit card, share market accessible to the people. The purpose of creating this blog is only so that people can get the correct information about the bank or stock market. Through this blog, I have tried to share my knowledge related to finance. I hope you like it.