सुकन्या खाता योजना के तहत आप अपनी बेटी के लिए 15 लाख रुपये की राशि जमा कर सकते हैं।

"बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" के तहत सुकन्या समृद्धि खाता एक ऐसी जमा योजना है जो बेटी के माता-पिता को एक अच्छी ब्याज दर प्रदान करती है।

2022 में यह योजना 7.6% की ब्याज दर की पेशकश कर रही है।

सुकन्या समृद्धि योजना खाता के लिए बेटी की उम्र 10 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

एक बेटी के नाम पर केवल एक ही खाता खोला जा सकता है, इसलिए बेटी का आधार कार्ड होना अनिवार्य है।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बेटी की उम्र 21 होने के बाद अपने खाते से राशि को निकाला जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाते में प्रतिवर्ष कम से कम 250 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए की राशि जमा की जा सकती है।

इस खाते को चलाने के लिए हर साल 250 रुपए जमा करने अनिवार्य है, अगर राशि जमा नहीं की गई तो आपका अकाउंट बंद हो जाएगा।

मान लें कि 2022 में आपने निवेश शुरू किया तब बेटी की उम्र 1 साल है। आपने 12,500 रुपये हर महीने जमा किए। साल 2043 में जब बेटी 21 साल की होगी तो स्कीम मैच्योर हो जाएगी और राशि मिलेगी 65 लाख रुपये।